Skip to main content

स्वतंत्रता के 75वें अमृत महोत्सव के अवसर पर वार्षिक प्रदर्शनी

कशिश, और आसिफा के माडल को प्रथम स्थान मिलने पर किया गया पुरूस्कृत

हरिद्वार। टेक्नॉलाजी और ऑनलाइन कक्षाओं के बावजूद बच्चों का टीचर्स के साथ रहना, उनके सामने बैठकर सीखना एक सुखद अहसास अहसास दिलाता है। आमने-आमने बैठकर पढ़ने से पाठ और विषय के प्रति विद्यार्थियों में एक अलग जिज्ञासा रहती है। यह बात विद्यामंदिर सी0से0 स्कूल सैक्टर-5 में स्वतंत्रता के 75वें अमृत महोत्सव के अवसर पर आयोजित वार्षिक प्रदर्शनी के उद्घाटन एवं विद्यार्थियों के सम्मान समारोह में बीएचईएल ईएमबी के अध्यक्ष एव महाप्रबंधक (मानव संसाधन) नीरज दवे ने विद्यार्थियों और अध्यापकों को संबोधित करते हुए कही। उन्हांेने कहा कि प्राइमरी कक्षाओं में विद्यार्थी आज्ञाकारी होते हैं, मिडिल कक्षाओं में कुछ लापरवाह हो जाते हैं लेकिन जैसे-जैसे वे बड़ी कक्षाओं में आते हैं, अपने भविष्य और कैरियर के प्रति गंभीर भी हो जाते हैं। इसके बावजूद टीचर्स के प्रति उनका सम्मानभाव बराबर बना रहता है। श्री दवे ने अपनेे सम्मान में आयोजित विद्यार्थियों की देशभक्ति प्रस्तुति को खूब सराहा। आयोजन स्थल पर प्रदर्शित पेंटिंग्स, रंग और कला की थीम के की सराहना करते हुए विद्यार्थियों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभमानाएं दी। उन्होंने का कि अगर इनको सही मार्गदर्शन और सहयोग मिले तो इनकी अच्छी प्रदर्शनी लग सकती है। जिससे इनको और इनकी कला को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। कार्यक्रम के उपरान्त उन्होंने वार्षिक प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। प्रदर्शनी में विद्याथिर्यां द्वारा भारत की ऐतिहासिक इमारतों में शामिल संसद भवन और इंडिया गेट सहित धार्मिक और पौराणिक महत्व के केदारनाथ मंदिर की अनुकृति की उन्होंने मुक्त कंठ से प्रशंसा की। इस प्रदर्शनी में विज्ञान और सामाजिक जीवन से जुडे अनेक सुन्दर माडल प्रस्तुत किये गये। प्रदर्शित माडलों में कशिश, और आसिफा के माडल को प्रथम, आदित्य सिंह, सक्षम शर्मा, अंश राय, प्रियांशु ध्यानी, हरमन तथा आसफ के माडल को द्वितीय एवं दर्पण सरन के माडल को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। इस अवसर पर विद्यार्थियों के प्रतिभा सम्मान कार्यक्रम में स्लोगन प्रतियोगिता में लक्की (प्रथम) राहुल दुबे (द्वितीय) तनिष्का नेगी को (तृतीय) स्थान प्राप्त करने पर पुरस्कृत किया गया। पंेटिंग कंप्टीशन में उदय राज (प्रथम), प्रशान्त मौर्या (द्वितीय), वैष्णवी सक्सेना को (तृतीय), निबंध प्रतियोगिता में तनिष्का नेगी को प्रथम, काजल को द्वितीय, लविता भट्ट को तृतीय स्थान प्राप्त करने पर पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया। सतर्कता विभाग द्वारा आयोजित निबंध और पेंटिंग प्रतियोगिताओं में भी श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए रिया वर्मा, अर्श प्रवीन, आरती तिवारी, सारिका, दीपा बिष्ट एवं ऋषभ राणा को भी अतिथिगणों द्वारा पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया। इससे पूर्व विद्यालय के प्रधानाचार्य सुनील कुमार त्यागी, केपी सिंह, पीके डोभाल, अनीता दत्ता आदि ने बीएचईएल ईएमबी के अध्यक्ष मुख्य अतिथि नीरल दवे, को-चेयरमेन विनीत जैन, सचिव अनूप गोयल तथा संयुक्त सचिव एचएस माहरा को पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका अभिनन्नद किया। कार्यक्रम का संचालन एसके त्यागी एवं इरा गुप्ता ने किया।   


Comments

Popular posts from this blog

ऋषिकेश मेयर सहित तीन नेताओं को पार्टी ने थमाया नोटिस

 हरिद्वार। भाजपा की ओर से ऋषिकेश मेयर,मण्डल अध्यक्ष सहित तीन नेताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में नोटिस जारी किया है। एक सप्ताह के अन्दर नोटिस का जबाव मांगा गया है। भारतीय जनता पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में ऋषिकेश की मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं, ऋषिकेश के मंडल अध्यक्ष दिनेश सती और पौड़ी के पूर्व जिलाध्यक्ष मुकेश रावत को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनबीर सिंह चैहान के अनुसार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने नोटिस जारी किए हैं। नोटिस में सभी को एक सप्ताह के भीतर अपना स्पष्टीकरण लिखित रूप से प्रदेश अध्यक्ष अथवा महामंत्री को देने को कहा गया है।

अयोध्या,मथुरा,वृंदावन मे भी बनेगा महाजन भवन,नरेश महाजन बने उपाध्यक्ष

  हरिद्वार। उतरी हरिद्वार स्थित महाजन भवन मे आयोजित कार्यक्रम में अखिल भारतीय महाजन शिरोमणि सभा के सदस्यों ने महाजन भवन मे महाजन बिरादरी में से पठानकोट की मुकेरियां विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी के तौर पर चुने गये विधायक जंगीलाल महाजन का जोरदार स्वागत किया। बताते चले कि जंगी लाल महाजन हरिद्वार महाजन भवन के चेयरमैन, तथा आल इंडिया महाजन शिरोमणी सभा के प्रैसिडेट पद पर भी महाजन बिरादरी की सेवा कर रहें हैं। इस अबसर पर अखिल भारतीय महाजन सभा के चेयरमैन व (पठानकोट) से भाजपा विधायक जंगीलाल महाजन ने कहा कि आल इंडिया महाजन सभा की पद्धति के अनुसार नरेश महाजन जो कि आल इंडिया सभा के सीनियर बाईस चेयरमैन भी है को हरिद्वार महाजन भवन में उपाध्यक्ष तथा हरीश महाजन को महामंत्री निुयुक्त किया। इस अबसर पर जंगी लाल महाजन ने कहा कि हम आशा ये दोनों मिलकर समितिया भी बनायेगे और अन्य सभाओं को जोडकर हरिद्वार महाजन भवन की उन्नति के लिए जो हमारे बुजुर्गों ने जो विरासत हमे दी है उसे आगे बढायेगे। हम चाहते हैं हरिद्वार महाजन भवन की तरह ही मथुरा,बृदांवन तथा अयोध्या मे भी भवन बने। उसके लिए ये दोनों अपना योगदान देगे। इसीलिए

आंदोलनकारियों की शहादत का परिणाम है उत्तराखंड राज्य--डॉ० अंजान

  हरिद्वार। 2 अक्टूबर का दिन पूरे देश में अहिंसा और शांति दिवस के रूप में मनाया जाता है। और उत्तराखंड तो स्वयं शांति, समन्वय, समरसता एवं अहिंसा का द्योतक ही रहा है। उत्तराखंड राज्य के इतिहास के बारे में डॉक्टर हरिनारायण जोशी ने बताया कि आज के ही दिन 2 अक्टूबर 1994 में शांति और अहिंसा का अर्थ ही बदल गया। क्रुरता, हिंसा और अमानवीयता की सारी सीमाएं पार हो गईं। शांति के साथ राज्य प्राप्ति की मांग मनवाने के लिए उत्तराखंड के विभिन्न भागों से अपनी राजधानी दिल्ली जाते हुए निहत्थे आंदोलनकारी थे बस यही कसूर था उनका कि उत्तराखंड राज्य की मांग।और यूपी सरकार की ऐसी व्यवस्था थी कि जिसने सुरक्षा देनी थी, महिलाओं को ही नहीं, पुरुषों को भी वही भक्षक के रूप में क्रुरतम हिंसा और अमानवियता की पराकाष्ठाओं को हिंसात्मक रूप देने में सम्मिलित हो गये। उस समय सरकार की मानवीयता छलनी हो गई। रामपुर तिराहे के लहराते खेत और वहां की संपूर्ण प्रकृति असहाय महिला और पुरुषों की कराहों के साथ चित्कार कर उठी होगी। लेकिन तथाकथित रक्षकों पर प्रभाव नहीं पड़ा। उनकी संवेदनाएं और मानवतायें भस्म हो गई और वे दैत्य स्वरूप के संवाहक