Skip to main content

ज्वैलरी शोरूम मालिक पर फायरिंग के मामले का पुलिस ने किया खुलासा,पांच गिरफ्तार

शोरूम मालिक की ओर से 51 हजार,एसएसपी की ओर से 25 हजार ईनाम देने की घोषणा



 हरिद्वार। कोतवाली ज्वालापुर क्षंेत्र मे मोरा तोरा ज्वैलर्स शोरूम के स्वामी पर फायरिंग व फिरौती मांगने के मामले का खुलासा करते हुए ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने मुख्य साजिशकर्ता सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से घटना में प्रयुक्त हुण्डई कार, स्कूटी, 32 बोर की पिस्टल व चार कारतूस, 315 बोर का तमंचा व पांच कारतूस के अलावा फोन भी पुलिस ने बरामद किए हैं। दरअसल कुख्यात सुनील राठी के नाम से पचास लाख की रंगदारी मांगने का मुख्य साजिशकर्ता शोरूम का एक ग्राहक बर्खास्त बैंककर्मी ही निकला। सीआईयू-ज्वालापुर पुलिस ने वारदात का पटाक्षेप करते हुए मूलरूप से बिजनौर से ताल्लुक रखने वाले मुख्य साजिशकर्ता, दो शूटर समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। ज्वैलर्स शोरूम स्वामी ने बदमाशों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुरूस्कार स्वरूप 51 हजार रूपए का चेक प्रदान किया। एसएसपी की ओर से भी 25 हजार रूपए का नकद ईनाम देने की घोषणा की गयी। इस सम्बन्ध मे ज्वालापुर कोतवाली परिसर पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा कि एसएसपी डा.योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि शोरूम स्वामी निपुण मित्तल ने बीती 26 जुलाई को स्कूटी से घर लौटते समय उन पर फायरिंग किए जाने के संबंध में मुकद्मा दर्ज कराया था। इसके बाद अगले ही दिन निपुण मित्तल को फोन कर सुनील राठी के नाम पर 50 लाख रूपए की रंगदारी मांगने व धमकाने का मामला सामने आया। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए तत्काल पुलिस टीमों का गठन कर जांच व अपराधियों की धरपकड़ के लिए लगाया गया। जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज चेक करने पर स्कूटी सवार दो लोगों द्वारा निपुण मित्तल का पीछा करने की जानकारी सामने आयी। भगत सिंह चौक व कंट्रोल में रूम लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक की गयी तो पता चला कि स्कूटी सवार लोगों में पीछे बैठा व्यक्ति एक हुन्डई कार जिसमें तीन-चार लोग सवार थे, से उतरकर स्कूटी पर सवार हुआ था। कार का रजिस्ट्रेशन नंबर चेक पर पता चला कि कार प्रदीप कुमार निवासी रावली महदूद बहादराबाद के नाम पर रजिर्स्टड है। रजिस्ट्रेशन में दिये गये नम्बर की कॉल डिटेल व सीआईयू द्वारा सर्विलांस करने पर प्रदीप व उसके साथियों को ट्रेस कर लिया गया। इसके बाद उनकी गिरफ्तारी के लिए सीआईयू व ज्वालापुर पुलिस द्वारा दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, हिमाचल, बिजनौर में दबिश दी गयी। मुख्य अभियुक्त प्रदीप कुमार को जब यह जानकारी हुई कि वादी द्वारा पुलिस को रंगदारी मॉगने के सम्बन्ध में रिपोर्ट दर्ज करा दी गयी है तो वह बोखला गया और अपनी आपराधिक साख बचाने व वादी को सबक सिखाने के उद्देश्य से वह वादी के शोरूम बन्द करने के बाद उसे ठिकाने लगाने की नियत से अपने साथियों के साथ हरिद्वार आ रहा था। पुलिस टीम को इसकी सूचना मिलने पर रानीपुर झाल के पास से प्रदीप कुमार व उसके साथियों को घटना में संलिप्त कार व हथियारों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। एसएसपी ने बताया कि घटना का मास्टर माइंड प्रदीप कुमार पुत्र सुरेश सिंह निवासी नवादा चौहान थाना नहटौर जिला बिजनौर यूपी है। प्रदीप कुमार वर्ष 2015 में थाना प्रेमनगर देहरादून से अपने सगे भाई अंकित व एक अन्य अभियुक्त के साथ डकैती के मामले में जेल जा चुका है। प्रदीप इण्डस्ट्रीयल केमेस्ट्री से एमएससी है और पूर्व में ओरियन्टल बैंक ऑफ कॉमर्स बुद्व बाजार मुरादाबाद में कर्लक के रूप में काम कर चुका है। इस दौरान वर्ष 2015 में डकैती में सम्मलित होने के कारण उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था। जिसके बाद उसके द्वारा धोखाधडी व अन्य आपराधिक घटनाओं से पैसा कमाया जा रहा था। पूछताछ में प्रदीप ने बताया कि इस घटना को अन्जाम देने के लिये उसने 6 लाख रूपये खर्च किए हैं। जिसमें 40 हजार की एक पिस्टल व 10-10 हजार के 2 तंमचे, कनखल में किराये पर दो फ्लैट व उत्तम नगर दिल्ली में किराये पर एक फ्लैट पहले से ही छिपने के लिये ले लिया था। गिरफ्तारी के दौरान प्रदीप के कब्जे से घटना में प्रयुक्त .32 बोर पिस्टल व 4 कारतूस बरामद हुये है। उसने बताया कि देहरादून प्रेमनगर में डकैती की घटना में उस पर कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। जिसमें उसके वारण्ट जारी हुए हैं। देहरादून पुलिस बार-2 उसके बिजनौर स्थित घर पर दबिश दे रही थी। वह वादी से समझौता करना चाहता था। जिसके लिये 50-60 लाख रूपये की जरूरत थी। इसपर उसने अपने गांव के लडकों को मकसद बताकर तैयार किया और मोरा तोरा शोरूम से एक चैन व कुण्डल अपनी पत्नी के लिये 2 महीने पहले खरीदे थे। जिसके डिब्बे पर वादी व उसके शोरूम के मोबाईल नम्बर अंकित थे। जिनका उसने फिरोती मांगने में प्रयोग किया। एसएसपी ने बताया कि निपुण मित्तल पर फायरिंग करने वालों में सचिन प्रजापित पुत्र पंकज प्रजापति व कौशल कुमार पुत्र महंेंद्र सिंह शामिल थे। सचिन प्रजापति सातवीं पास है। जबकि कौशल बीए प्रथम वर्ष तक शिक्षित है। निपुण मित्तल पर फायरिंग कौशल ने की थी। जबकि सचिन प्रजापति स्कूटी चला रहा था। दोनों प्रदीप के गांव के ही रहने वाले हैं। दोनों के कब्जे से तमंचे व कारतूस तथा घटना मेंप प्रयुक्त स्कूटी बरामद की गयी है। जबकि अन्य आरोपी अरूण कुमार व अंकुर कुमार फायरिंग की घटना के दौरान मुख्य आरोपी प्रदीप के साथ कार में सवार थे। इस दौरान एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह, एएसपी रेखा यादव कोतवाली प्रभारी आरके सकलानी सहित पूरी पुलिस टीम मौजूद रही। 


Comments

Popular posts from this blog

ऋषिकेश मेयर सहित तीन नेताओं को पार्टी ने थमाया नोटिस

 हरिद्वार। भाजपा की ओर से ऋषिकेश मेयर,मण्डल अध्यक्ष सहित तीन नेताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में नोटिस जारी किया है। एक सप्ताह के अन्दर नोटिस का जबाव मांगा गया है। भारतीय जनता पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में ऋषिकेश की मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं, ऋषिकेश के मंडल अध्यक्ष दिनेश सती और पौड़ी के पूर्व जिलाध्यक्ष मुकेश रावत को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनबीर सिंह चैहान के अनुसार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने नोटिस जारी किए हैं। नोटिस में सभी को एक सप्ताह के भीतर अपना स्पष्टीकरण लिखित रूप से प्रदेश अध्यक्ष अथवा महामंत्री को देने को कहा गया है।

धूमधाम से गंगा जी मे प्रवाहित होगा पवित्र जोत,होगा दुग्धाभिषेक -डॉ0नागपाल

 112वॉ मुलतान जोत महोत्सव 7अगस्त को,लाखों श्रद्वालु बनेंगे साक्षी हरिद्वार। समाज मे आपसी भाईचारे और शांति को बढ़ावा देने के संकल्प के साथ शुरू हुई जोत महोसत्व का सफर पराधीन भारत से शुरू होकर स्वाधीन भारत मे भी जारी है। पाकिस्तान के मुल्तान प्रान्त से 1911 में भक्त रूपचंद जी द्वारा पैदल आकर गंगा में जोत प्रवाहित करने का सिलसिला शुरू हुआ जो आज भी अनवरत 112वे वर्ष में भी जारी है। इस सांस्कृतिक और सामाजिक परम्परा को जारी रखने का कार्य अखिल भारतीय मुल्तान युवा संगठन बखूबी आगे बढ़ा रहे है। संगठन अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नागपाल व अन्य पदाधिकारियो ने रविवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों से  मुल्तान जोत महोत्सव के संबंध मे वार्ता की। वार्ता के दौरान डॉ नागपाल ने बताया कि 7 अगस्त को धूमधाम से  मुलतान जोट महोत्सव सम्पन्न होगा जिसके हजारों श्रद्धालु गवाह बनेंगे। उन्होंने बताया कि आजादी के 75वी वर्षगांठ पर जोट महोत्सव को तिरंगा यात्रा के साथ जोड़ने का प्रयास होगा। श्रद्धालुओं द्वारा जगह जगह सुन्दर कांड का पाठ, हवन व प्रसाद वितरण होगा। गंगा जी का दुग्धाभिषेक, पूजन के साथ विशेष ज्योति गंगा जी को अर्पित करेगे।

बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दलों ने 127 कांवडियों,श्रद्धालुओं को गंगा में डूबने से बचाया

  हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय के निर्देशन, अपर जिलाधिकारी पी0एल0शाह के मुख्य संयोजन एवं नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी के संयोजन में कांवड़ मेले के दौरान बी0ई0जी0 आर्मी के तैराक दल अपनी मोटरबोटों एवं सभी संसाधनों के साथ कांवडियों की सुरक्षा के लिये गंगा के विभिन्न घाटों पर तैनात होकर मुस्तैदी से हर समय कांवड़ियों को डूबने से बचा रहे हैं। बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा कांवड़ मेला अवधि के दौरान 127 शिवभक्त कांवडियों,श्रद्धालुओं को डूबने से बचाया गया। 17 वर्षीय अरूण निवासी जालंधर, 24 वर्षीय मोनू निवासी बागपत, 18 वर्षीय अमन निवासी नई दिल्ली, 20 वर्षीय रमन गिरी निवासी कुरूक्षेत्र, 22 वर्षीय श्याम निवासी सराहनपुर, 23 वर्षीय संतोष निवासी मुरादाबाद, 18 वर्षीय संदीप निवासी रोहतक आदि को विभिन्न घाटों से बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा गंगा में डूबने से बचाया गया तथा साथ ही साथ प्राथमिक उपचार देकर उन सभी कांवडियों को चेतावनी दी गयी कि गंगा में सुरक्षित स्थानों में ही स्नान करें। कांवड़ मेला अवधि के दौरान बी0ई0जी0आर्मी तैराक दल एवं रेड क्रास स्वयंसेवकों द्वारा गंगा के पुलों एवं घाटों पर माइकिं