Skip to main content

उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित

 हरिद्वार। पंडित दीनदयाल उपाध्याय शैक्षिक उत्कृष्टता पुरस्कार 2021 में जनपद के इंटरमीडिएट एवं हाई स्कूल के 11 छात्र-छात्राओं को उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर सम्मानित किया गया। छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र, मोमेंटो एवं प्रति बच्चा 51 सौ रुपये की धनराशि दी गई। यही नहीं जनपद के चार हाई स्कूल एवं चार इंटरमीडिएट विद्यालयों को उत्कृष्ट कार्य करने पर मोमेंटो और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया है। शुक्रवार को आर्य इंटर कॉलेज बोंगला में शिक्षा विभाग की और से कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें मुख्य शिक्षा अधिकारी कमलेश कुमार गुप्ता एवं जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक नरेश कुमार हल्द्वानी ने बच्चों और विद्यालयों के प्रिंसिपलों को प्रमाण पत्र वितरित किए। मुख्य शिक्षा अधिकारी कमलेश कुमार गुप्ता ने कहा कि छात्र-छात्राओं के उत्कृष्ट कार्य करने में 11 बच्चों को सम्मानित किया गया है। शिक्षा विभाग की ओर से प्रयास किए जा रहे हैं कि आगामी सत्र में जो परीक्षा परिणाम आए। उसमें छात्र-छात्राएं बेहतर प्रदर्शन करें। इस मौके पर हाईस्कूल में हिमानी अंजुम सागर दास साहिल यमन गर्ग खुशी त्यागी, अत्रेय ढौडियाल, इंटरमीडिएट में मोहित भट्ट रेखा कुमारी, सोनू कश्यप, रोहित थपलियाल को प्रशस्ति को सम्मानित किया गया। इसके अलावा परीक्षा परिणाम शत-प्रतिशत लाने पर डॉ.बीआरएवीएमएचएसएस बसेड़ी खादर, एसएबीएसपीएचएस इमलीखेड़ा,एसवी विद्याभारती एचएसएस रुड़की,एचएमएचएसएस गाजीवाला श्यामपुर, इंटरमीडिएट में एसवाईएस वीएसएस बीवीआईसी पनियाला, आईपी इंटर कॉलेज लक्सर, एसडीबीएमएसएस गंगा शिवालिक नगर, केआर कन्या इंटर कॉलेज शांतरशाह को भी सम्मानित किया गया। पंडित दीनदयाल उपाध्याय शैक्षिक उत्कृष्टता पुरस्कार 2021 में जनपद के इंटरमीडिएट एवं हाई स्कूल के 11 छात्र-छात्राओं को उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर सम्मानित किया गया। छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र, मोमेंटो एवं प्रति बच्चा 51 सौ रुपये की धनराशि दी गई। यही नहीं जनपद के चार हाई स्कूल एवं चार इंटरमीडिएट विद्यालयों को उत्कृष्ट कार्य करने पर मोमेंटो और प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया है। शुक्रवार को आर्य इंटर कॉलेज बोंगला में शिक्षा विभाग की और से कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें मुख्य शिक्षा अधिकारी कमलेश कुमार गुप्ता एवं जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक नरेश कुमार हल्द्वानी ने बच्चों और विद्यालयों के प्रिंसिपलों को प्रमाण पत्र वितरित किए। मुख्य शिक्षा अधिकारी कमलेश कुमार गुप्ता ने कहा कि छात्र-छात्राओं के उत्कृष्ट कार्य करने में 11 बच्चों को सम्मानित किया गया है। शिक्षा विभाग की ओर से प्रयास किए जा रहे हैं कि आगामी सत्र में जो परीक्षा परिणाम आए। उसमें छात्र-छात्राएं बेहतर प्रदर्शन करें। इस मौके पर हाईस्कूल में हिमानी अंजुम सागर दास साहिल यमन गर्ग खुशी त्यागी, अत्रेय ढौडियाल, इंटरमीडिएट में मोहित भट्ट रेखा कुमारी, सोनू कश्यप, रोहित थपलियाल को प्रशस्ति को सम्मानित किया गया। इसके अलावा परीक्षा परिणाम शत-प्रतिशत लाने पर डॉ.बीआरएवीएमएचएसएस बसेड़ी खादर, एसएबीएसपीएचएस इमलीखेड़ा,एसवी विद्याभारती एचएसएस रुड़की,एचएमएचएसएस गाजीवाला श्यामपुर,इंटरमीडिएट में एसवाईएस वीएसएस बीवीआईसी पनियाला,आईपी इंटर कॉलेज लक्सर ,एसडीबीएमएसएस गंगा शिवालिक नगर,केआर कन्या इंटर कॉलेज शांतरशाह को भी सम्मानित किया गया।


Comments

Popular posts from this blog

धूमधाम से गंगा जी मे प्रवाहित होगा पवित्र जोत,होगा दुग्धाभिषेक -डॉ0नागपाल

 112वॉ मुलतान जोत महोत्सव 7अगस्त को,लाखों श्रद्वालु बनेंगे साक्षी हरिद्वार। समाज मे आपसी भाईचारे और शांति को बढ़ावा देने के संकल्प के साथ शुरू हुई जोत महोसत्व का सफर पराधीन भारत से शुरू होकर स्वाधीन भारत मे भी जारी है। पाकिस्तान के मुल्तान प्रान्त से 1911 में भक्त रूपचंद जी द्वारा पैदल आकर गंगा में जोत प्रवाहित करने का सिलसिला शुरू हुआ जो आज भी अनवरत 112वे वर्ष में भी जारी है। इस सांस्कृतिक और सामाजिक परम्परा को जारी रखने का कार्य अखिल भारतीय मुल्तान युवा संगठन बखूबी आगे बढ़ा रहे है। संगठन अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नागपाल व अन्य पदाधिकारियो ने रविवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों से  मुल्तान जोत महोत्सव के संबंध मे वार्ता की। वार्ता के दौरान डॉ नागपाल ने बताया कि 7 अगस्त को धूमधाम से  मुलतान जोट महोत्सव सम्पन्न होगा जिसके हजारों श्रद्धालु गवाह बनेंगे। उन्होंने बताया कि आजादी के 75वी वर्षगांठ पर जोट महोत्सव को तिरंगा यात्रा के साथ जोड़ने का प्रयास होगा। श्रद्धालुओं द्वारा जगह जगह सुन्दर कांड का पाठ, हवन व प्रसाद वितरण होगा। गंगा जी का दुग्धाभिषेक, पूजन के साथ विशेष ज्योति गंगा जी को अर्पित करेगे।

बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दलों ने 127 कांवडियों,श्रद्धालुओं को गंगा में डूबने से बचाया

  हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय के निर्देशन, अपर जिलाधिकारी पी0एल0शाह के मुख्य संयोजन एवं नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी के संयोजन में कांवड़ मेले के दौरान बी0ई0जी0 आर्मी के तैराक दल अपनी मोटरबोटों एवं सभी संसाधनों के साथ कांवडियों की सुरक्षा के लिये गंगा के विभिन्न घाटों पर तैनात होकर मुस्तैदी से हर समय कांवड़ियों को डूबने से बचा रहे हैं। बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा कांवड़ मेला अवधि के दौरान 127 शिवभक्त कांवडियों,श्रद्धालुओं को डूबने से बचाया गया। 17 वर्षीय अरूण निवासी जालंधर, 24 वर्षीय मोनू निवासी बागपत, 18 वर्षीय अमन निवासी नई दिल्ली, 20 वर्षीय रमन गिरी निवासी कुरूक्षेत्र, 22 वर्षीय श्याम निवासी सराहनपुर, 23 वर्षीय संतोष निवासी मुरादाबाद, 18 वर्षीय संदीप निवासी रोहतक आदि को विभिन्न घाटों से बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा गंगा में डूबने से बचाया गया तथा साथ ही साथ प्राथमिक उपचार देकर उन सभी कांवडियों को चेतावनी दी गयी कि गंगा में सुरक्षित स्थानों में ही स्नान करें। कांवड़ मेला अवधि के दौरान बी0ई0जी0आर्मी तैराक दल एवं रेड क्रास स्वयंसेवकों द्वारा गंगा के पुलों एवं घाटों पर माइकिं

अयोध्या,मथुरा,वृंदावन मे भी बनेगा महाजन भवन,नरेश महाजन बने उपाध्यक्ष

  हरिद्वार। उतरी हरिद्वार स्थित महाजन भवन मे आयोजित कार्यक्रम में अखिल भारतीय महाजन शिरोमणि सभा के सदस्यों ने महाजन भवन मे महाजन बिरादरी में से पठानकोट की मुकेरियां विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी के तौर पर चुने गये विधायक जंगीलाल महाजन का जोरदार स्वागत किया। बताते चले कि जंगी लाल महाजन हरिद्वार महाजन भवन के चेयरमैन, तथा आल इंडिया महाजन शिरोमणी सभा के प्रैसिडेट पद पर भी महाजन बिरादरी की सेवा कर रहें हैं। इस अबसर पर अखिल भारतीय महाजन सभा के चेयरमैन व (पठानकोट) से भाजपा विधायक जंगीलाल महाजन ने कहा कि आल इंडिया महाजन सभा की पद्धति के अनुसार नरेश महाजन जो कि आल इंडिया सभा के सीनियर बाईस चेयरमैन भी है को हरिद्वार महाजन भवन में उपाध्यक्ष तथा हरीश महाजन को महामंत्री निुयुक्त किया। इस अबसर पर जंगी लाल महाजन ने कहा कि हम आशा ये दोनों मिलकर समितिया भी बनायेगे और अन्य सभाओं को जोडकर हरिद्वार महाजन भवन की उन्नति के लिए जो हमारे बुजुर्गों ने जो विरासत हमे दी है उसे आगे बढायेगे। हम चाहते हैं हरिद्वार महाजन भवन की तरह ही मथुरा,बृदांवन तथा अयोध्या मे भी भवन बने। उसके लिए ये दोनों अपना योगदान देगे। इसीलिए