Skip to main content

श्री राधा रसिक बिहारी भागवत परिवार सेवा ट्रस्ट ने किया श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन

 हरिद्वार। श्री राधा रसिक बिहारी भागवत परिवार सेवा ट्रस्ट के तत्वाधान में पितृपक्ष में पित्र मोक्ष के लिए ज्ञान लोक कॉलोनी इंदु एनक्लेव कनखल में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के सातवेें दिन भागवताचार्य पंडित पवन कृष्ण शास्त्री श्रद्धालुओं को कथा का श्रवण कराते हुए कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को भगवत भजन अवश्य करना चाहिए। भगवत भजन करने से ही कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है। ध्रुव चरित्र श्रवण कराते हुए पंडित पवन कृष्ण शास्त्री ने बताया कि महाराज उत्तानपाद के पुत्र धु्रव सौतेली मां के कटु वचनों को सुनकर 5 वर्ष की अवस्था में सब कुछ त्याग कर वृंदावन की पावन भूमि पर कठोर साधना करते हैं। साधना से प्रसन्न होकर भगवान नारायण घु्रव को दर्शन देते हैं और अनेक प्रकार के वरदान देकर धु्रपद प्रदान कर देते हैं। ठीक इसी प्रकार प्रहलाद का भी चरित्र भागवत में आता है। प्रहलाद का जन्म राक्षस कुल में हुआ। परंतु प्रहलाद बाल्यकाल से ही भगवत भजन करते हैं। प्रहलाद के पिता हिरण्य कश्यपु प्रहलाद को मारने के लिए अनेक प्रकार के उपाय करता है। परंतु भगवत भजन के प्रभाव से प्रहलाद का बाल भी बांका नहीं हुआ एवं स्वयं भगवान नारायण नरसिंह रूप धारण करके आते हैं और हिरण्य कश्यप को मारकर प्रहलाद की रक्षा करते हैं। कथा व्यास ने कहा कि जो मनुष्य भगवान का भजन करता है। भगवान उसकी रक्षा अवश्य करते हैं। उन्होंने कहा कि भागवत कथा के आयोजन व श्रवण का अवसर सौभाग्य से मिलता है। पितृपक्ष के दौरान समस्त पित्र पृथ्वी पर आते हैं और हमारे द्वारा दिए गए अन्न जल को ग्रहण करते हैं और प्रसन्न होकर समस्त मनोकामनाओं को पूर्ण करते है।ं इस दौरान मुख्य यजमान राजीव अरोड़ा,सीमा अरोड़ा,डिंपल अरोड़ा,ऋषभ अरोड़ा,संजीव अरोड़ा,सोनिया अरोड़ा,अंशिका अरोड़ा,अनिकेत अरोड़ा एवं समस्त कॉलोनी वासियों ने भागवत पूजन कर अपने अपने पितरों का पूजन किया एवं कथा का श्रवण किया।


Comments

Popular posts from this blog

धूमधाम से गंगा जी मे प्रवाहित होगा पवित्र जोत,होगा दुग्धाभिषेक -डॉ0नागपाल

 112वॉ मुलतान जोत महोत्सव 7अगस्त को,लाखों श्रद्वालु बनेंगे साक्षी हरिद्वार। समाज मे आपसी भाईचारे और शांति को बढ़ावा देने के संकल्प के साथ शुरू हुई जोत महोसत्व का सफर पराधीन भारत से शुरू होकर स्वाधीन भारत मे भी जारी है। पाकिस्तान के मुल्तान प्रान्त से 1911 में भक्त रूपचंद जी द्वारा पैदल आकर गंगा में जोत प्रवाहित करने का सिलसिला शुरू हुआ जो आज भी अनवरत 112वे वर्ष में भी जारी है। इस सांस्कृतिक और सामाजिक परम्परा को जारी रखने का कार्य अखिल भारतीय मुल्तान युवा संगठन बखूबी आगे बढ़ा रहे है। संगठन अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नागपाल व अन्य पदाधिकारियो ने रविवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों से  मुल्तान जोत महोत्सव के संबंध मे वार्ता की। वार्ता के दौरान डॉ नागपाल ने बताया कि 7 अगस्त को धूमधाम से  मुलतान जोट महोत्सव सम्पन्न होगा जिसके हजारों श्रद्धालु गवाह बनेंगे। उन्होंने बताया कि आजादी के 75वी वर्षगांठ पर जोट महोत्सव को तिरंगा यात्रा के साथ जोड़ने का प्रयास होगा। श्रद्धालुओं द्वारा जगह जगह सुन्दर कांड का पाठ, हवन व प्रसाद वितरण होगा। गंगा जी का दुग्धाभिषेक, पूजन के साथ विशेष ज्योति गंगा जी को अर्पित करेगे।

बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दलों ने 127 कांवडियों,श्रद्धालुओं को गंगा में डूबने से बचाया

  हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय के निर्देशन, अपर जिलाधिकारी पी0एल0शाह के मुख्य संयोजन एवं नोडल अधिकारी डा0 नरेश चौधरी के संयोजन में कांवड़ मेले के दौरान बी0ई0जी0 आर्मी के तैराक दल अपनी मोटरबोटों एवं सभी संसाधनों के साथ कांवडियों की सुरक्षा के लिये गंगा के विभिन्न घाटों पर तैनात होकर मुस्तैदी से हर समय कांवड़ियों को डूबने से बचा रहे हैं। बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा कांवड़ मेला अवधि के दौरान 127 शिवभक्त कांवडियों,श्रद्धालुओं को डूबने से बचाया गया। 17 वर्षीय अरूण निवासी जालंधर, 24 वर्षीय मोनू निवासी बागपत, 18 वर्षीय अमन निवासी नई दिल्ली, 20 वर्षीय रमन गिरी निवासी कुरूक्षेत्र, 22 वर्षीय श्याम निवासी सराहनपुर, 23 वर्षीय संतोष निवासी मुरादाबाद, 18 वर्षीय संदीप निवासी रोहतक आदि को विभिन्न घाटों से बी0ई0जी0 आर्मी तैराक दल द्वारा गंगा में डूबने से बचाया गया तथा साथ ही साथ प्राथमिक उपचार देकर उन सभी कांवडियों को चेतावनी दी गयी कि गंगा में सुरक्षित स्थानों में ही स्नान करें। कांवड़ मेला अवधि के दौरान बी0ई0जी0आर्मी तैराक दल एवं रेड क्रास स्वयंसेवकों द्वारा गंगा के पुलों एवं घाटों पर माइकिं

अयोध्या,मथुरा,वृंदावन मे भी बनेगा महाजन भवन,नरेश महाजन बने उपाध्यक्ष

  हरिद्वार। उतरी हरिद्वार स्थित महाजन भवन मे आयोजित कार्यक्रम में अखिल भारतीय महाजन शिरोमणि सभा के सदस्यों ने महाजन भवन मे महाजन बिरादरी में से पठानकोट की मुकेरियां विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी के तौर पर चुने गये विधायक जंगीलाल महाजन का जोरदार स्वागत किया। बताते चले कि जंगी लाल महाजन हरिद्वार महाजन भवन के चेयरमैन, तथा आल इंडिया महाजन शिरोमणी सभा के प्रैसिडेट पद पर भी महाजन बिरादरी की सेवा कर रहें हैं। इस अबसर पर अखिल भारतीय महाजन सभा के चेयरमैन व (पठानकोट) से भाजपा विधायक जंगीलाल महाजन ने कहा कि आल इंडिया महाजन सभा की पद्धति के अनुसार नरेश महाजन जो कि आल इंडिया सभा के सीनियर बाईस चेयरमैन भी है को हरिद्वार महाजन भवन में उपाध्यक्ष तथा हरीश महाजन को महामंत्री निुयुक्त किया। इस अबसर पर जंगी लाल महाजन ने कहा कि हम आशा ये दोनों मिलकर समितिया भी बनायेगे और अन्य सभाओं को जोडकर हरिद्वार महाजन भवन की उन्नति के लिए जो हमारे बुजुर्गों ने जो विरासत हमे दी है उसे आगे बढायेगे। हम चाहते हैं हरिद्वार महाजन भवन की तरह ही मथुरा,बृदांवन तथा अयोध्या मे भी भवन बने। उसके लिए ये दोनों अपना योगदान देगे। इसीलिए