Skip to main content

पत्रकारों को अधिक सुविधाएं देने की मांग

 हरिद्वार। नेशनलिस्ट यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (एनयूजे उत्तराखण्ड) ने उत्तराखण्ड के पत्रकारों के हित और कल्याण के लिए उन्हें तात्कालिक और अंतरिम राहत प्रदान करते हुए मध्य प्रदेश पैटर्न के अनुसार सुविधाओं का विस्तार करने की मांग की है।यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष त्रिलोक चन्द्र भट्ट द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को भेजे पत्र में कहा गया है कि उत्तराखण्ड में राज्य सरकार की ओर से पत्रकारों के लिए कई कल्याण योजनाएं चलायी जा रही हैं, तथापि मौजूदा समय में पत्रकारों और उनके आश्रितों के लिए वे पर्याप्त नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि पत्रकारों को अपने संस्थानों, समाचार पत्र-पत्रिकाओं से इतना वेतन या पारिश्रमिक नहीं मिलता कि वे अच्छी तरह से अपना घर-परिवार चला सकें। जबकि देश के कई अन्य राज्यों में उन्हें बेहतर सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। भट्ट ने  मुख्यमंत्री को अवगत कराया है कि हाल में ही मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों के लिए बड़ी घोषणाएं की हैं। जिसमें वरिष्ठ एवं बुजुर्ग पत्रकारों को प्रति माह दी जाने वाली सम्मान निधि 10 हजार से बढ़ाकर 20 हजार की जा रही है। सम्मान निधि प्राप्त करने वाले पत्रकार की मृत्यु होने पर उनकी पत्नी को पेंशन के बजाय एक मुश्त 8 लाख की राशि दी जायेगी। जबकि अधिमान्यता निधि प्राप्त पत्रकारों को आवास ऋण ब्याज अनुदान के अंतर्गत अधिकतम ऋण राशि 25 लाख से बढ़ाकर 30 लाख की जा रही है। साथ ही पत्रकारों के बच्चों की शिक्षा के लिए बैंक से ऋण लेने पर उसके ब्याज पर भी 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान 5 साल के लिए सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। भट्ट द्वारा इसी के दृष्टिगत उत्तराखण्ड के पत्रकारों के हित और कल्याण के लिए भी तात्कालिक और अंतरिम राहत प्रदान करते हुए मध्य प्रदेश पैटर्न के अनुसार सुविधाओं का विस्तार करने की मांग की गई है। उनके द्वारा प्रेषित चार सूत्री मांगपत्र में कहा गया है कि उत्तराखण्ड के वरिष्ठ एवं बुजुर्ग पत्रकारों को प्रति माह दी जाने मौजूदा पेंशन राशि 8 हजार से बढ़ाकर दोगुनी करते हुए, 16 हजार की जाए ताकि 60 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले वरिष्ठ पत्रकारों को जीवनयापन में तकलीफ न हो। साथ ही पेंशन प्राप्त करने वाले पत्रकार की मृत्यु होने पर उनकी पत्नी, आश्रित को एक मुश्त 8 लाख की राशि प्रदान की जाये। जिससे उन्हें अपने भरण पोषण और जीवनयापन में आसानी हो। भट्ट ने यूनियन की ओर से मांग की है कि आवास निर्माण करने वाले पत्रकारों के लिए आवास ऋण योजना लागू की जाये और अधिकतम 30 लाख तक,आवास ऋण पर ब्याज अनुदान प्रदान किया जाय। यह मांग भी की गई है कि पत्रकारों के बच्चों की शिक्षा के लिए बैंक से ऋण लेने पर ऋण के ब्याज पर 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान, 5 साल के लिए सरकार द्वारा वहन किया जाए।


Comments

Popular posts from this blog

गौ गंगा कृपा कल्याण महोत्सव का आयोजन किया

  हरिद्वार। कुंभ में पहली बार गौ सेवा संस्थान श्री गोधाम महातीर्थ पथमेड़ा राजस्थान की ओर से गौ महिमा को भारतीय जनमानस में स्थापित करने के लिए वेद लक्ष्णा गो गंगा कृपा कल्याण महोत्सव का आयोजन किया गया है।  महोत्सव का शुभारंभ उत्तराखंड गौ सेवा आयोग उपाध्यक्ष राजेंद्र अंथवाल, गो ऋषि दत्त शरणानंद, गोवत्स राधा कृष्ण, महंत रविंद्रानंद सरस्वती, ब्रह्म स्वरूप ब्रह्मचारी ने किया। महोत्सव के संबध में महंत रविंद्रानंद सरस्वती ने बताया कि इस महोत्सव का उद्देश्य गौ महिमा को भारतीय जनमानस में पुनः स्थापित करना है। गौ माता की रचना सृष्टि की रचना के साथ ही हुई थी, गोमूत्र एंटीबायोटिक होता है जो शरीर में प्रवेश करने वाले सभी प्रकार के हानिकारक विषाणुओ को समाप्त करता है, गो पंचगव्य का प्रयोग करने से शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, शरीर मजबूत होता है रोगों से लड़ने की क्षमता कई गुना बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में वैश्विक महामारी ने सभी को आतंकित किया है। परंतु जिन लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है। कोरोना उनका कुछ नहीं बिगाड़ पाता है। उन्होंने गो पंचगव्य की विशेषताएं बताते हुए कहा कि वर्तमा

ऋषिकेश मेयर सहित तीन नेताओं को पार्टी ने थमाया नोटिस

 हरिद्वार। भाजपा की ओर से ऋषिकेश मेयर,मण्डल अध्यक्ष सहित तीन नेताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में नोटिस जारी किया है। एक सप्ताह के अन्दर नोटिस का जबाव मांगा गया है। भारतीय जनता पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में ऋषिकेश की मेयर श्रीमती अनिता ममगाईं, ऋषिकेश के मंडल अध्यक्ष दिनेश सती और पौड़ी के पूर्व जिलाध्यक्ष मुकेश रावत को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनबीर सिंह चैहान के अनुसार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने नोटिस जारी किए हैं। नोटिस में सभी को एक सप्ताह के भीतर अपना स्पष्टीकरण लिखित रूप से प्रदेश अध्यक्ष अथवा महामंत्री को देने को कहा गया है।

धूमधाम से गंगा जी मे प्रवाहित होगा पवित्र जोत,होगा दुग्धाभिषेक -डॉ0नागपाल

 112वॉ मुलतान जोत महोत्सव 7अगस्त को,लाखों श्रद्वालु बनेंगे साक्षी हरिद्वार। समाज मे आपसी भाईचारे और शांति को बढ़ावा देने के संकल्प के साथ शुरू हुई जोत महोसत्व का सफर पराधीन भारत से शुरू होकर स्वाधीन भारत मे भी जारी है। पाकिस्तान के मुल्तान प्रान्त से 1911 में भक्त रूपचंद जी द्वारा पैदल आकर गंगा में जोत प्रवाहित करने का सिलसिला शुरू हुआ जो आज भी अनवरत 112वे वर्ष में भी जारी है। इस सांस्कृतिक और सामाजिक परम्परा को जारी रखने का कार्य अखिल भारतीय मुल्तान युवा संगठन बखूबी आगे बढ़ा रहे है। संगठन अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नागपाल व अन्य पदाधिकारियो ने रविवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों से  मुल्तान जोत महोत्सव के संबंध मे वार्ता की। वार्ता के दौरान डॉ नागपाल ने बताया कि 7 अगस्त को धूमधाम से  मुलतान जोट महोत्सव सम्पन्न होगा जिसके हजारों श्रद्धालु गवाह बनेंगे। उन्होंने बताया कि आजादी के 75वी वर्षगांठ पर जोट महोत्सव को तिरंगा यात्रा के साथ जोड़ने का प्रयास होगा। श्रद्धालुओं द्वारा जगह जगह सुन्दर कांड का पाठ, हवन व प्रसाद वितरण होगा। गंगा जी का दुग्धाभिषेक, पूजन के साथ विशेष ज्योति गंगा जी को अर्पित करेगे।